Latest 100 Love Shayari in Hindi

Hello Friends, Today We are going to Share TOP Love Shayari in Hindi with You. You can also Share this Love Shayaris with Your Friends or Lover on Whatsapp or Facebook. Lets Enjoy the Collection of Love Shayari in Hindi.

Love-Shayari-in-Hindi

Love Shayari in Hindi

 

दिल की किताब में गुलाब उनका था,
रात की नींद में ख्वाब उनका था,
कितना प्यार करते हो जब हमने पूछा,
मर जायंगे तुम्हारे बिना ये जबाब उनका था।


 

दिल के रिश्ते का कोई नाम नहीं होता,
हर रास्ते का मुक़ाम नहीं होता,
अगर निभाने की चाहत हो दोनों तरफ,
तो क़सम से कोई रिश्ता नाक़ाम नहीं होता!

Check – Latest Hindi Shayari

Check- Whatsapp Status in Hindi

 


 

Tere Intejar Me Kab Se Udaas Bethe Hain,
Tere Deedar Me Aankhe Bichaaye Bethe Hain,
Tu Ek Najar Hum Ko Dekh Le Bas,
Es Aas Me Kab Se Bekarar Bethe Hain.


 

Yaad karte hai tumhe tanhai mein,
Dil dooba hai ghamo ki gehrai mein,
Hume mat dhoodna duniya ki bhid mein,
Hum milenge tumhe tumhari parchaai mein.


 

याद करते है तुम्हे तनहाई में,
दिल डूबा है गमो की गहराई में,
हमें मत ढूंढना दुनिया की भीड़ में,
हम मिलेंगे में तुम्हे तुम्हारी परछाई में।


 

आप हमसे हम आपसे प्यार पाते रहे
मोहब्बत का एहसास युही जगाते रहे
होके हमेशा के लिए एक दूसरे के,
वैलेंटाइन्स डे हम साथ मनाते रहे.


 

Main aadat hu uski, woh zarurat hain meri,
Main farmayish hu uski, woh ibadat hai meri
Itni aasani se kaise nikal du use apne dil se,
Main khwab hu uska woh hakikat hain meri.


 

दर्द की जब कभी इन्तहा होती हैं
दवा की जरुरत फिर कहाँ होती हैं
तन्हाई, बेचैनी और बस कुछ आहें
इनमे पल कर ही मोहब्बत जवां होती हैं.


 

संभाले नहीं संभलता है दिल,
मोहब्बत की तपिश से न जला,
इश्क तलबगार है तेरा चला आ,
अब ज़माने का बहाना न बना।


 

Mohabbat Naam Hai Jiska Wo Aisi Qaid Hai Yaaro,
Ki Umrein Beet Jaati Hain Sazaa Puri Nahin Hoti.
मोहब्बत नाम है जिसका वो ऐसी क़ैद है यारों,
कि उम्रें बीत जाती हैं सजा पूरी नहीं होती।


 

रोज साहिल से समंदर का नजारा न करो,
अपनी सूरत को शबो-रोज निहारा न करो,
आओ देखो मेरी नजरों में उतर कर खुद को,
आइना हूँ मैं तेरा मुझसे किनारा न करो।


 

अपने हाथों से यूँ चेहरे को छुपाते क्यूँ हो,
मुझसे शर्माते हो तो सामने आते क्यूँ हो,
तुम भी मेरी तरह कर लो इकरार-ए-वफ़ा अब,
प्यार करते हो तो फिर प्यार छुपाते क्यूँ हो?


 

लौट जाती है उधर को भी नज़र क्या कीजे,
अब भी दिलकश है तेरा हुस्न मगर क्या कीजे।


Read More – Love Shayari in Hindi

 

 

Advertisements